Tuesday, 17 October 2017
इस्लामिक कट्टरपंथीयो के कहर से जूझती मुस्लिम महिलायें

Added: 21.01.2017 7:18 | 157 views | 0 comments


अल्लाह से नहीं फतवा से डर लगता है साहब. कहा जाता है की धर्म की शुरुआत हमे समाजिक बनाने के लिए की गयी थी, लेकिन जब धर्म की आड़ में मजहबी ठेकेदार अपना डर दिखा कर अपनी बात थोपने लगते है तो समाजिक बनाने वाला धर्म असमाजिक सा लगने लगता है. कभी पहनावे को लेकर [...]

More in hindi.insistpost.com »



Image with code
CommentsComments:
advertising

Copyright © 2008 - 2017 www.indiag.com  - all rights reserved